Poems Archives - studentpost

Poems

Poems

My Post Poems

एक दिन दिये ने खुद से खुद को पुछा

एक दिन दिये ने खुद से खुद को पुछा स्वयं जलकर देता अंधकार का काम तमाम क्या स्वयम जनता है ,या अपने संपन से है तू अंजान दिया मुस्कुराया गुलाबी होंठ भड़फड़ाया कंकड़ीली पत्थरो पर चलकर राम ने किया सबका उद्दार...

Read More
My Post Poems

नौ नवरात्रे दशम दशहरा

नौ नवरात्रे दशम दशहरा  मेरी माँ प्यारी माँ चरण शरण में बढ़ी हूँ माँ नवरात्रे शक्ति निराली सभी इच्छा पूरी कर डाली दसवे दिन अब आया दशहरा रावण ,कुंभकरण ,मेघनाथ...

Poems

आज का विचार

आज का विचार  मन मंदिर में बसी जो शक्ति  उसको पहचान तू  विश्व विधाता साथ है तेरे  सोस रूप पहचान ज़रा तू डेरो के चक्कर में न पड़ अब तो आँखे खोल ज़रा तू सुनीता...

Poems

आज का विचार

आज का विचार  शिक्षा में संस्कार बसा है संस्कार में संयम समाया संयम में सन्तोष खजाना सन्तोष में समाधान छुपा है समाधान में सुख है सारे सुख में सारा जीवन बिता रे।...

Poems

माता-पिता

माता-पिता माता-पिता की सेवा करना। उनपर कोई अहसान नहीं। माता-पिता से बढ़कर दूजा कोई धाम नहीं। चरणों को छूले ना सरोसे चारों धाम तीरथ हो जाये। माता-पिता का आशीष...